हम सभी को अपने से बड़ों और बुजुर्गों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए, साथ ही हमें उनके साथ वैसा व्यवहार करना चाहिए जैसे वे बचपन में हमें प्यार देते थे।

हेल्प एज इंडिया फाउंडेशन मोबाइल हेल्थकेयर यूनिट यमुनोत्री टीम द्वारा दिनांक 1 अक्टूबर 2022 को अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर खरादी इंटरकॉलेज यमुनोत्री ब्लॉक में कार्यक्रम आयोजित किया जिसमे प्रोजेक्ट ऑफिसर दीपिका ने छात्रों को बताया कि बुजुर्गों में मुख्य रूप से रक्तचाप, श्रवण हानि, आंखों की रोशनी कम होना, भूलने की बीमारी जैसी होती हैं।

 

हम सभी को उनकी भावनाओं का सम्मान करना चाहिए, हमें उनके साथ वैसा व्यवहार करना चाहिए जैसे वे बचपन में हमें प्यार देते थे। क्योंकि बुजुर्गों का आशीर्वाद हर किसी को नहीं मिलता। तथा डॉ. शेखर यादव ने बताया कि हम जब अपने बुजुर्गों के साथ समय नहीं बिताते हैं उनसे बातें नहीं करते हैं तो वे मानसिक बीमारियों से जूझते हैं। तथा फार्मासिस्ट मदन गैरोला ने बताया कि आज के समय में हम सभी अपने जीवन में इतने व्यस्त हो गए हैं कि हम अपने बुजुर्गों के लिए समय नहीं दे रहे हैं। इसलिए हमें उनके साथ कुछ समय जरूर बिताना चाहिये। खरादी इंटरकॉलेज में 55 से अधिक आयु के शिक्षकों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया तथा छात्रों के ब्लड ग्रुप जांच किए गए, खरादी इंटरकोलेज के प्रधानाचार्य तथा समस्त विद्यालय परिवार ने हेल्प एज इंडिया को धन्यवाद दिया। मधुवन नौटियाल तथा शक्ति प्रसाद जगुड़ी का विशेष सहयोग रहा।

114 thoughts on “हम सभी को अपने से बड़ों और बुजुर्गों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए, साथ ही हमें उनके साथ वैसा व्यवहार करना चाहिए जैसे वे बचपन में हमें प्यार देते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *